ताइक्वांडो में लहरा रहा जिले का परचम, देवरिया के रवि तराश रहे युवाओं में सेल्फ डिफेंस का हुनर

0
Deoria
deoria-warm-welcome-to-players-who-returned-after-winning-medals-from-international-championships.

द लोकतंत्र देवरिया ब्यूरो : आज के जमाने को देखते हुए यह बहुत जरूरी हो गया है कि हम अपने बच्चों को आत्मरक्षा करना सिखाएं।  माता-पिता होने के नाते हमें अपने बच्चों को अच्छे व बुरे की पहचान करवानी चाहिए और बच्चों को यह बताना चाहिए कि किस पर विश्वास करना चाहिए और किस पर नहीं। इसलिए आजकल यह बहुत जरूरी हो गया है कि आप बच्चों को सावधान रहने के साथ-साथ उन्हें आत्मरक्षा के कुछ तरीके (Self Defense Tricks for Kids) भी समझाएं। माता पिता हर वक्त तो अपने बच्चों के साथ नहीं रह सकते इसलिए उन्हें आत्मरक्षा की कुछ ट्रिक्स (Self Defense Tricks for Kids) सिखाना बहुत जरूरी होता है। देवरिया के रवि त्रिपाठी कुछ ऐसी ही सोच के साथ युवाओं, बच्चों में आत्मरक्षा करने हेतु ताइक्वांडो का गुर सिखा रहे हैं। बकौल रवि, समाज में बढ़ते महिला अपराध बेहद चिंता का विषय हैं, और अब यह जरूरी हो गया है कि लड़कियों और महिलाओं को खुद ही आगे आना होगा। रवि अपनी ख़ुशी साझा करते हुए कहते हैं कि हाल ही में उनके द्वारा सिखाये गए बच्चो ने अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो चैंपियनशिप प्रतियोगिता में जिले से 19 बच्चों ने प्रतिभाग किया जिसमें देवरिया ने 1 गोल्ड, 2 रजत और 4 कांस्य के साथ कुल 7 पदक जीते। 

दरअसल, 23 दिसम्बर को कोलकाता में अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो चैंपियनशिप का आयोजन किया गया था जिसमें रवि अकैडेमी के बच्चों ने भी प्रतिभाग किया था। प्रतियोगिता के आयोजक भारत के कोरियन ताइक्वांडो के अध्यक्ष शियांग कुक जियांग, वेस्ट बंगाल के सेक्रेटरी रूप कमल नंदी और ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया के जेनरल सेक्रेटरी जिम्मी आर जगतियानी के रहे। इस आयोजन में भारत के अलावे नेपाल, बांग्लादेश, कोरिया, भूटान, इंडोनेशिया, जापान, फिलिपींस ,मलेशिया आदि देशों के 800 खिलाड़ियों ने भाग लिया। इस चैंपियनशिप का आयोजन अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो फेडरेशन आफ इंडिया के नेतृत्व में कोलकाता टीम ने किया। 

देवरिया से मेडल प्राप्त करने वालों में प्रवीण गुप्ता को 68 किग्रा भार जूनियर वर्ग में स्वर्ण पदक, नागेश्वर तिवारी 61 किग्रा भार कैडेट वर्ग में रजत पदक, खुशी यादव 50 किग्रा भार सब जूनियर में रजत पदक, सौम्या सिंह अंडर 50 भार सब जूनियर में कांस्य पदक, पलक त्रिपाठी 23 किग्रा भार इन्फैंट में कांस्य पदक, समीर मिश्र 57 किग्रा भार के कैडेट वर्ग में कांस्य पदक, रुद्रांश मिश्र 49 किग्रा भार कैडेट वर्ग में कांस्य पदक हासिल हुआ।  कोरिया सेे आये दाईहुनमुन ने सभी प्रतिभागियों को मेडल व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। वहीं इस दौरान शियांग कुक जियांग ने इंडिया कोच रवि त्रिपाठी को शील्ड देकर सम्मानित किया।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry