इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव करने वाले लोगों पर लगा रासुका

0

द लोकतंत्र / उमा पाठक : बीते दिन मध्यप्रदेश के इंदौर के टाटपट्टी बाखल इलाके में डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर पथराव करने का मामला सामने आया था। मध्यप्रदेश सरकार ने चार लोगों पर रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) लगाया गया है। इस कानून के तहत हिरासत में लिए व्यक्ति को अधिकमत एक साल जेल में रखा जा सकता है।

प्रदेश सरकार ने हमले के आरोपी मोहम्मद मुस्तफा, मोहम्मद गुलरेज, शोएब और मजीद पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की है। इस हमले को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहले ही कह चुके हैं कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा।

आपको बता दें, हमले के आरोप में सात आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इंदौर डीआईजी हरि नारायण चारी मिश्र ने गुरुवार को बताया था कि टाटपट्टी बाखल इलाके में हुई घटना पर दोषियों की वीडियो फुटेज से पहचान की गई है।

मुख्य दोषी सहित चार लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। इनके खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा सहित धारा 186 , 188 और 353 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। मिश्रा ने बताया है कि अन्य दस दोषियों पर भी कार्रवाई की जा रही है।

पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से पूरी तरह मुक्त रखने के लिए कृपया द लोकतंत्र की आर्थिक मदद करें। किसी भी तरह के स्वैच्छिक राशि को डोनेट करने हेतु बटन पर क्लिक करें –