OLX पर लगा दी ‘स्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी’ की बोली, लिखा कोरोना से लड़ने के लिए फण्ड की जरूरत

0
Statue-of-Unity

द लोकतंत्र / दिल्ली डेस्क : कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए मेडिकल बुनियादी ढांचे और अस्पतालों पर होने वाले सरकारी खर्च को पूरा करने के लिए क्लासिफाइड पोर्टल olx पर स्टेच्यू ऑफ़ यूनिटी की 30.000 करोड़ रुपये में बिक्री का विज्ञापन दिए जाने का मामला सामने आया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के सहायक कमिश्नर नीलेश दुबे द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया, ‘सरकार को बदनाम करने के इरादे से एक अज्ञात व्यक्ति ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को ओएलएक्स पर बिक्री के लिए लगा दिया जबकि उसके पास ऐसा करने का कोई अधिकार नहीं था। यह भयावह है कि ऑनलाइन मार्केटप्लेस ओएलएक्स ने पोस्ट को सत्यापित नहीं किया।’

हालाँकि ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ की बिक्री के लिए एक ऑनलाइन विज्ञापन जारी करने को लेकर एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। विज्ञापन लगाने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 (किसी भी अफवाह, किसी भी तरह की अफवाहें फैलाना), 417 (धोखाधड़ी के लिए सजा), 469 (जालसाजी) और सूचना और प्रौद्योगिकी अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

पत्रकारिता को राजनीति और कारपोरेट दबावों से पूरी तरह मुक्त रखने के लिए कृपया द लोकतंत्र की आर्थिक मदद करें। किसी भी तरह के स्वैच्छिक राशि को डोनेट करने हेतु बटन पर क्लिक करें –